UPPSC PCS Syllabus in Hindi Pdf 2023 | यूपीपीएससी पीसीएस सिलेबस हिंदी

आपको इस लेख के माध्यम से UPPSC PCS का संपूर्ण Syllabus वो भी Hindi भाषा में विस्तार से दिया जा रहा है ताकि आप अपनी तैयारी एक सटीक रणनीति से शुरू कर सके | यूपी राज्य की राज्य स्तरीय प्रशासनिक पदों की परीक्षा का आयोजन करने वाली संस्था यूपीपीएससी है जिसका सिलेबस देखे तो यूपीएससी आईएएस सिलेबस की ही भांति बड़ा है परन्तु यूपीएससी आईएएस की तरह जटिल नहीं है | यूपीपीएससी पीसीएस सिलेबस सफलता पाने और आपकी तैयारी को और अधिक अच्छा एवं एक नया रूप देने में अहम भूमिका निभाता है | UPPSC PCS Syllabus और Exam pattern की सम्पूर्ण जानकारी Hindi भाषा में नीचे दिया जा रहा है |

यूपीपीएससी पीसीएस सिलेबस 2023 को जानेंगे | उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा ली जाने वाली प्रशासनिक परीक्षा या लोक सेवा परीक्षा जिसे आप उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी पीसीएस) के नाम से जानते हैं | यूपीपीएससी पीसीएस के सम्पूर्ण सिलेबस (प्रश्न पत्र की प्रकृति, प्रश्न पत्र के विषय, अंक) और एग्जाम पैटर्न को जानेंगे | चलिए जानते हैं कि परीक्षा में सफलता पाने के लिए किन बिंदुओं को ध्यान में रखना चाहिए | UPPSC PCS Syllabus हिंदी में – यूपीपीएससी पीसीएस परीक्षा यूपीएससी आईएएस से काफी मिलती है किंतु यूपीपीएससी पीसीएस परीक्षा में अधिकतर प्रश्न उत्तर प्रदेश राज्य संबंधित होते हैं जोकि यूपीएससी आईएएस में ऐसा कुछ नहीं होता हैं |

UPPSC PCS Syllabus in Hindi 2023

यूपीपीएससी पीसीएस परीक्षा में भी अन्य पीसीएस परीक्षा की तरह तीन चरण ही होते हैं – प्रीलिम्स, मेन्स और साक्षात्कार | यूपीपीएससी पीसीएस की सभी परीक्षा तो ऑफ़लाइन होती है परन्तु आवेदन ऑनलाइन होती है | यूपीपीएससी पीसीएस परीक्षा यूपीपीएससी आयोग द्व्रारा आयोजित कराई जाती है | यूपीपीएससी आयोग प्रीलिम्स व मेन्स परीक्षा का सिलेबस अलग अलग जारी करती है | ऐसा क्यों होता है ये आप यूपीपीएससी पीसीएस परीक्षा सिलेबस पढ़ के पता कर सकते है जो कि इस लेख में दिया गया है | यूपीपीएससी पीसीएस सिलेबस दो भागों में विभाजित है –

  • यूपीपीएससी पीसीएस प्रीलिम्स
  • यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स व साक्षात्कार

UPPSC PCS Syllabus & Exam Pattern 2023

  • यूपीपीएससी पीसीएस परीक्षा यूपीपीएससी पीसीएस आयोग करवाती है |
  • UPPSC PCS Syllabus परीक्षा तीन चरणों में होती है |
  • यूपीपीएससी पीसीएस परीक्षा का आवेदन ऑनलाइन होता है |
  • यूपीपीएससी पीसीएस परीक्षा ऑफलाइन होता है |
  • यूपीपीएससी पीसीएस परीक्षा की न्यूनतम आयु 21 वर्ष है |
  • UPPSC PCS Syllabus के अनुसार UPPSC PCS परीक्षा परीक्षार्थी को उत्तर प्रदेश की क्या जानकारी है परखता है |

UP PCS PYQs Questions Trend Analysis

विषय202120202019201820172016
इतिहास182426222222
भूगोल222124242424
भारतीय राजव्यवस्था252319191923
सामान्य विज्ञान एवं विज्ञान प्रौद्योगिकी221223162629
भारतीय अर्थव्यवस्था131918091616
पर्यावरण101922261610
जनसंख्या080300080304
करेंट अफेयर्स272118212117
उत्तर प्रदेश विशेष050800050305
कुल150150150150150150

UPPCS Prelims Exam Pattern 2023 Hindi

यूपीपीएससी पीसीएस प्रीलिम्स परीक्षा मात्र क्वालीफाइंग परीक्षा है मतलब कि जो भी परीक्षार्थी इस परीक्षा में कटऑफ अंक से अधिक प्राप्त करेंगे अर्थात जो भी परीक्षार्थी इस परीक्षा में सफल होंगे केवल वो ही यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स परीक्षा के लिए आवेदन करेंगे | UPPSC PCS प्रीलिम्स Syllabus परीक्षा का परीक्षा पैटर्न क्या है वो नीचे विस्तार से दिया गया है | UPPSC PCS प्रीलिम्स के दो पेपर सामान्य अध्ययन पेपर 1 और सामान्य अध्ययन पेपर 2 है जो कि दोनों पेपर अनिवार्य होते है | सामान्य अध्ययन पेपर 2 एक क्वालिफाइंग पेपर है तथा इसमें न्यूनतम 33% अंक लाना अनिवार्य है अन्यथा आप UPPSC PCS प्रीलिम्स परीक्षा में सफल नहीं हो पाएंगे |

  • प्रीलिम्स का प्रत्येक पेपर 200 अंकों का होता है |
  • प्रत्येक पेपर वस्तुनिष्ठ प्रकृति का होता है |
  • प्रीलिम्स के प्रत्येक पेपर के लिए दो घंटे की समयावधि होती है |
  • यूपीपीएससी प्रीलिम्स में नकारातमक अंकन भी होता है |
  • प्रत्येक गलत उत्तर होने पर 1/3 अंक काटे जाते है |
  • कहे तो प्रत्येक प्रश्न गलत होने पर 0.66 अंक कटेंगे |
  • यूपीपीएससी प्रीलिम्स पेपर 2 में 33% अंक लाना उत्तीर्ण माना जाता है |
  • प्रत्येक परीक्षार्थी को यूपीपीएससी प्रीलिम्स के दोनों पेपर में उपस्थित होना अनिवार्य है अन्यथा परीक्षार्थी को उपस्थित नहीं माना जाएगा |

यूपीपीएससी पीसीएस प्रीलिम्स परीक्षा के किसी भी पेपर का प्राप्त अंक यूपीपीएससी पीसीएस के अंतिम परिणाम में जोड़े नहीं जायेंगे | यूपीपीएससी पीसीएस की प्रारंभिक परीक्षा मात्र मुख्य परीक्षा के लिए परिक्षार्थियों का चयन के लिए किया जाता है | प्रारंभिक परीक्षा का मेरिट सूची से कोई सम्बन्ध नहीं होता है |

UPPSC PCS Prelims PaperNo of QuestionsMarksTime
सामान्य अध्ययन पेपर 11502002 घंटे
सामान्य अध्ययन पेपर 21002002 घंटे

UPPSC PCS Prelims Syllabus in Hindi 2023

UPPSC PCS प्रीलिम्स Syllabus को देखे तो पता चलता है कि यूपीपीएससी पीसीएस प्रीलिम्स परीक्षा में कुल दो पेपर होता है | यूपीपीएससी पीसीएस प्रीलिम्स पास करने वाले परीक्षार्थी ही यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स के लिए योग्य माने जाएंगे | एक बात और कि सिविल सेवा परीक्षाओं में प्रीलिम्स परीक्षा में रिजेक्शन रेट बहुत अधिक होता है जिससे यह जरुरी हो जाता है कि आप अपनी तैयारी पूरी मेहनत और सिलेबस को ध्यान में रखते हुए करें। यूपीपीएससी प्रीलिम्स के दोनों पेपर का नाम सामान्य अध्ययन पेपर 1 तथा सामान्य अध्ययन पेपर दो है जिसका संपूर्ण सिलेबस नीचे दिया गया है –

UPPCS Prelims GS Paper 1 Syllabus in Hindi

  1. राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय सामयिक मामले (भारत के सम्बन्ध में)
  2. भारत का इतिहास, भारतीय राष्ट्रीय व स्वतंत्रता आंदोलन (उत्तर प्रदेश के विशेष सन्दर्भ में)
  3. भारत के सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक इतिहास
  4. राष्ट्रवाद का विकास एवं स्वतंत्रता प्राप्ति (उत्तर प्रदेश की भूमिका)
  5. भारतीय और विश्व भूगोल एवं भारत का भौतिक, सामाजिक और आर्थिक भूगोल (उत्तर प्रदेश के परिपेक्ष में)
  6. आर्थिक और सामाजिक विकास, सामाजिक क्षेत्र, गरीबी समावेशन (उत्तर प्रदेश के विशेष सन्दर्भ में)
  7. जलवायु परिवर्तन, जैव विविधता ((उत्तर प्रदेश के विशेष सन्दर्भ में) एवं सामान्य विज्ञान (भौतिकी, रसायन व जीवविज्ञान)

यूपीपीएससी प्रीलिम्स GS Paper 1 Syllabus

राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय सामयिक मामले :- राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय घटनाएं एवं सामयिक मामले का (जैसे – रूस-यूक्रेन युद्ध आदि) यूपीपीएससी पीसीएस प्रीलिम्स परीक्षा की दृष्टिकोण से बहुत ही महत्त्वपूर्ण है |

भारत का इतिहास, भारतीय राष्ट्रीय व स्वतंत्रता आंदोलन :-इतिहास विषय की बात करें तो यूपीपीएससी पीसीएस प्रीलिम्स परीक्षा में इतिहास से प्रश्न बहुत रहते है आप ऊपर दी गयी सूची में देख सकते हो | भारत का इतिहास, भारतीय स्वतंत्रता व राष्ट्रीय आन्दोलन और भारतीय इतिहास के सामाजिक, आर्थिक एवं राजनीतिक स्थिति की जानकारी आपको होना चाहिए | उत्तर प्रदेश के विशेष सन्दर्भ में आपको इतिहास विषय का ज्ञान रखना होगा |

भारत एवं विश्व का भूगोल – भूगोल की बात करे तो आपको पता होना चाहिए कि भूगोल से प्रश्न अन्य विषयों से अधिक होते है इसलिए आपको भूगोल में भारतीय और विश्व भूगोल एवं भारत का भौतिक, सामाजिक और आर्थिक भूगोल की व्यापक जानकारी होनी चाहिए |

भारतीय राजव्यवस्था – इस विषय की बात क्या करे आप ऊपर दी गयी सूची में देख सकते हो, लगभग हर साल इस विषय से 20 से 25 प्रश्न यूपीपीएससी पीसीएस प्रीलिम्स में रहते है | भारतीय राजव्यवस्था में संविधान, पंचायती राज, लोक कल्याण नीति जैसे तथ्य से सम्बंधित प्रश्न रहते है |

सामान्य विज्ञान एवं विज्ञान प्रौद्योगिकी :- सामान्य विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी का भी यूपीपीएससी पीसीएस प्रीलिम्स परीक्षा में योगदान कम नहीं है | यूपीपीएससी पीसीएस के लिए सामान्य विज्ञान एवं विज्ञान प्रौद्योगिकी की सामान्य समझ आपमें होनी चाहिए | यूपीपीएससी पीसीएस आयोग अभ्यार्थी से चाहता है की आपमें सामान्य विज्ञान की सामान्य समझ हो |

भारतीय अर्थव्यवस्था, पर्यावरण एवं जनसंख्या :- यह विषय की बात करे तो आपको भारतीय अर्थव्यवस्था एवं जनसंख्या से सम्बंधित तथ्य “सामाजिक विकास, सतत विकास, गरीबी, नगरीकरण की समस्या, पर्यावरण, जैव विविधता, जलवायु परिवर्तन, पारिस्थितिकी, जनसांख्यिकीय” के सम्बन्ध में व्यापक जानकारी होनी चाहिए |

UPPCS Prelims GS Paper 2 Syllabus in Hindi

  • कॉम्प्रिहेंशन, तर्क व विश्लेषणात्मक क्षमता
  • निर्णय लेने की कौशल एवं समस्या समाधान का कौशल
  • सामान्य मानसिक क्षमता व कौशल
  • कक्षा 10 स्तरीय सामान्य हिंदी (वर्णमाला, संधि, समास, क्रिया, अनेकार्थी व विलोम शब्द आदि)
  • मैट्रिक्स स्तरीय सामान्य अंग्रेजी जिसमे Comprehension, Voice, Parts of speech, Vocabulary, Idioms & phrases etc है |
  • सामान्य गणित (मैट्रिक्स अर्थात हाईस्कूल स्तरीय) में अंक व बीजगणित, रेखागणित, सांख्यिकी और हाईस्कूल के पाठ्यक्रम से सम्बंधित बिंदु |
uppsc-uppcs-syllabus-in-hindi-pdf
UPPSC UPPCS Syllabus in Hindi PDF

यूपीपीएससी प्रीलिम्स GS Paper 2 Syllabus

अंकगणित एवं बीजगणित – संख्या पद्धति (प्राकृतिक संख्या , पूर्णांक, परिमेय संख्या, अपरिमेय संख्या, वास्तविक संख्या, विभाजक, लघुत्तम समापवर्त्य, महत्तम समापवर्त्य), औसत, अनुपात एवं समानुपात, प्रतिशत, लाभ-हानि, ब्याज- साधारण एवं चक्रवृद्धि, काम तथा समय, चाल, समय तथा दूरी, बहुपद (गुणनखण्ड, लघुत्तम समापवर्त्य एवं महत्तम समापवर्त्य, शेषफल प्रमेय, समीकरण – सरल युगपत समीकरण, द्विघात समीकरण), समुच्चय (समुच्चय के प्रकार, उपसमुच्चय, उचित उपसमुच्चय, रिक्त समुच्चय, संक्रिया, बेन-आरेख)

रेखागणित एवं सांख्यिकी – त्रिभुज, आयत, वर्ग, चतुर्भुज एवं चतुर्भुज के प्रकार, वृत्त, वृत्त के गुण, त्रिभुज के प्रमेय, परिमाप एवं क्षेत्रफल, आयत, वर्ग और चतुर्भुज के प्रमेय, परिमाप एवं क्षेत्रफल, घन, गोला, बेलन, शंकु एवं इसके प्रकार और इसके आयतन एवं पृष्ठ, वक्र पृष्ठ व सम्पूर्ण पृष्ठ क्षेत्रफल | आंकड़े, इसका वर्गीकरण एवं निरूपण (दण्डचार्ट, पाई चार्ट, आयत चित्र), बारम्बारता, इसका बंटन, बारम्बारता के प्रकार, संचयी बारम्बारता एवं बहुभुज, बारम्बारता वक्र, केन्द्रीय प्रवृत्ति की माप, समान्तर माध्य, माध्यिका एवं बहुलक, सारणीयन |

मैट्रिक्स स्तरीय सामान्य अंग्रेजी – Comprehension, Voice and its types (Active and Passive Voice), Parts of Speech, Sentences Transformation, Speech and its types (Direct Speech and Indirect Speech), Punctuation & Spellings, Words meanings (Vocabulary and their Use), Idioms and Phrases and its use, Fill in the Blanks.

कक्षा 10 स्तरीय सामान्य हिंदी – हिन्दी वर्णमाला, चिन्ह, शब्द रचना (तत्सम एवं तद्भव, देशज, विदेशी), वाक्य रचना एवं वर्तनी, अर्थ एवं अर्थबोध, शब्द रूप, संधि, समास एवं क्रिया, अनेकार्थी, विलोम एवं पर्यायवाची शब्द, मुहावरे एवं लोकोक्तियां, हिन्दी भाषा के प्रयोग में होने वाली अशुद्धियाँ और उत्तर प्रदेश की प्रमुख बोलियाँ

UPPSC PCS Mains Exam Pattern Pdf 2023

यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स सिलेबस और परीक्षा पैटर्न को देखे तो पता चलता है कि UPPSC PCS Mains Syllabus & Exam Pattern यूपीएससी आईएएस की तरह बनाया गया है | यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स में पपेरों की संख्या, पपेरों की प्रकृति तथा प्रत्येक पेपर के लिए निर्धारित समयावधि सभी यूपीएससी आईएएस की ही तरह है जो कि निचे विस्तार से दिया गया है |

  • यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स में कुल आठ पेपर होते हैं |
  • मेन्स/मुख्य परीक्षा का प्रत्येक पेपर 3 घंटे का होता है |
  • यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स का पेपर वर्णात्मक प्रकृति का होता है |
  • यूपी पीसीएस मुख्य परीक्षा कुल 1500 अंकों का होता है |
  • यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स में नकारात्मक अंकन नहीं होता है |
  • यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स परीक्षा एक मेरिट परीक्षा है |
  • यूपी पीसीएस मेन्स के सामान्य हिंदी पेपर क्वालीफाइंग पेपर होता है |
  • यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स के वैकल्पिक पेपर का चयन नीचे दिए गए सूची में से ही करना होता है |
  • सामान्य हिंदी पेपर को छोड़कर अन्य सभी पेपर के अंक आपके यूपीपीएससी पीसीएस के अंतिम परिणाम में जोड़े जाते है |
UPPSC PCS Mains SubjectsMarksTime
सामान्य हिंदी1503 घण्टे
निबन्ध1503 घण्टे
सामान्य अध्ययन 12003 घण्टे
सामान्य अध्ययन 22003 घण्टे
सामान्य अध्ययन 32003 घण्टे
सामान्य अध्ययन 42003 घण्टे
वैकल्पिक विषय 12003 घण्टे
वैकल्पिक विषय 22003 घण्टे

UPPSC PCS Mains Syllabus in Hindi 2023

यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स/मुख्य परीक्षा, प्रीलिम्स परीक्षा पास करने वाले विद्यार्थी ही दे सकते है | यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स परीक्षा वस्तुनिष्ट नहीं बल्कि वर्णनात्मक प्रकृति की होती है। जैसा कि आपको पता है यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स परीक्षा में आठ पेपर होते हैं जो कि कुल 1500 अंकों की होती है। यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स परीक्षा में प्रश्न इन विषयों से पूछे जाते है – सामान्य हिंदी, निबंध, सामान्य अध्ययन (I-IV) और वैकल्पिक विषय (I-II) से पूछे जाते हैं जिसमे सामान्य हिंदी क्वालीफाइंग पेपर है |

UPPSC PCS Mains General Hindi Syllabus 2023 PDF

यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स की सामान्य हिंदी पेपर एक क्वालीफाइंग पेपर है जिसमे 33% अंक लाना अनिवार्य है, जैसा आपको पता है कि सामान्य हिंदी पेपर कुल 150 अंकों का पेपर है जिसमे 50 अंक लाना अनिवार्य होता है | यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स सामान्य हिंदी पेपर में किन किन बिंदु से प्रश्न आते है वो इस प्रकार है –

  • पत्र लेखन (सरकारी एवं अर्धसरकारी), तार लेखन एवं कार्यालय आदेश से सम्बंधित
  • संक्षेपण, लोकोक्ति एवं मुहावरे आदि पर भी आधारित प्रश्न रहते है
  • अनेकार्थी, विलोम एवं पर्यायवाची शब्द जैसे बिन्दुओ से भी सम्बंधित
  • शब्द रचना, वाक्य रचना, अर्थ एवं प्रयोग और उपसर्ग एवं प्रत्यय प्रयोग
  • संधि, समास, शब्द रूप (तत्सम एवं तद्भव, देशज, विदेशी) पर आधारित

UPPSC PCS Mains Essay Syllabus 2023 PDF

यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स की निबंध पेपर एक मेरिट पेपर है जिससे आपको इस में अधिक से अधिक अंक लाना होगा, जैसा आपको पता है कि निबंध पेपर भी कुल 150 अंकों का पेपर है | यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स निबंध पेपर के अंक परीक्षा के अंतिम परिणाम में जोड़े जाते है | यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स निबंध पेपर में किन किन बिंदु से प्रश्न आते है वो इस प्रकार है –

  • कला और संस्कृति, सामाजिक एवं राजनैतिक मुद्दे से सम्बंधित
  • विज्ञान, पर्यावरण और प्रौद्योगिकी, अर्थशास्त्र, कृषि, उद्योग और व्यापार पर आधारित
  • राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय घटनाएं, प्राकृतिक आपदा, सूखा, भूस्खलन, भूकंप, बाढ़ आदि।

UPPCS Mains GS Paper 1 Syllabus 2023 Hindi PDF

यूपीपीएससी पीसीएस Mains GS Paper 1 एक मेरिट पेपर है जिससे आपको इस में अधिक से अधिक अंक लाना होगा, जैसा आपको पता है कि GS Paper 1 पेपर कुल 200 अंकों का पेपर है | UPPSC PCS Mains GS Paper 1 के अंक परीक्षा के अंतिम परिणाम में जोड़े जाते है | UPPCS Mains GS Paper 1 में किन किन बिंदु से प्रश्न आते है वो इस प्रकार है –

  • भारतीय संस्कृति एवं इसका इतिहास, प्राचीन काल से आधुनिक काल तक के कला रूपों, साहित्य और वास्तुकला
  • राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय महत्व एवं घटनायें ((विशेषकर उत्तर प्रदेश से सम्बंधित)
  • भारतीय समाज और महिला संगठनों में महिलाओं की भूमिका
  • भारत का इतिहास एवं भारतीय राष्ट्रीय स्वतंत्रता आन्दोलन (उत्तर प्रदेश के विशेष सन्दर्भ में)
  • विश्व व भारत का भूगोल (भौतिक, सामाजिक वआर्थिक भूगोल) – उत्तर प्रदेश के विशेष सन्दर्भ में
  • पर्यावरण एवं पारिस्थितिकी, जैव विविधता एवं जलवायु परिवर्तन

UPPSC PCS Mains GS Paper 2 Syllabus 2023 Hindi PDF

UPPCS Mains GS Paper 2 एक मेरिट पेपर है जिससे आपको इस में अधिक से अधिक अंक लाना होगा, जैसा आपको पता है कि GS Paper 2 पेपर भी कुल 200 अंकों का पेपर है | UPPSC PCS Mains GS Paper 2 के अंक परीक्षा के अंतिम परिणाम में जोड़े जाते है | UPPCS Mains GS Paper 2 में किन किन बिंदु से प्रश्न आते है वो इस प्रकार है –

  • हमारे देश के लोकतंत्र में सिविल सेवाओं की भूमिका
  • भारत का संविधान इसके ऐतिहासिक आधार, विकास, विशेषताएं, संरचना एवं सर्वोच्च न्यायालय की भूमिका
  • भारत का संविधान के अनुसार संघ और राज्यों के कार्य और जिम्मेदारियां
  • भारतीय कार्यपालिका और न्यायपालिका की संरचना, संगठन और कार्यप्रणाली मुख्य विशेषताएं।
  • भारत के केंद्र में वित्त आयोग की भूमिका और राज्य वित्तीय शक्तियों का विभाजन
  • भारत की संवैधानिक योजना की तुलना एवं संसद और राज्य विधानसभाएँ
  • देश में संवैधानिक पदों पर नियुक्ति, कार्य और उनके दायित्व।
  • देश में अर्ध न्यायिक निकाय, नीति आयोग, उनकी विशेषताएं और कार्यप्रणाली
  • उत्तर प्रदेश के सन्दर्भ में विभिन्न क्षेत्रों में विकास के लिए सरकार की नीतियां और हस्तक्षेप एवं प्रक्रिया
  • देश में केंद्र और राज्यों द्वारा जनसंख्या के कमजोर वर्गों के लिए योजनाएं
  • देश में गरीबी और भुखमरी से संबंधित मुद्दे एवं शासन के महत्वपूर्ण पहलू
  • भारत और पड़ोसी देशों के साथq संबंध एवं द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक समूह और समझौते

यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स सामान्य अध्ययन पेपर 3 सिलेबस 2023

UPPCS Mains GS Paper 3 एक मेरिट पेपर है जिससे आपको इस में अधिक से अधिक अंक लाना होगा, जैसा आपको पता है कि Mains GS Paper 3 भी कुल 200 अंकों का पेपर है | UPPSC PCS Mains GS Paper 3 के अंक परीक्षा के अंतिम परिणाम में जोड़े जाते है | UPPCS Mains GS Paper 3 में किन किन बिंदु से प्रश्न आते है वो इस प्रकार है –

  • भारत में आर्थिक नियोजन, उद्देश्य, उपलब्धियाँ और नीति आयोग
  • भारत में सतत विकास का उद्देश्य एवं गरीबी और बेरोजगारी
  • देश और यूपी में सामाजिक न्याय और विकास
  • भारतीय और उत्तर प्रदेश सरकारी बजट एवं वित्तीय प्रणाली
  • उत्तर प्रदेश के प्रमुख फसलें, सिंचाई प्रणाली, कृषि उपज, कृषि क्षेत्र में ई-तकनीक
  • भारत में खाद्य प्रसंस्करण और संबंधित उद्योग एवं देश स्वतंत्रता के बाद से भारत में भूमि सुधार
  • भारतीय अर्थव्यवस्था पर उदारीकरण और वैश्वीकरण के प्रभाव, औद्योगिक नीति और औद्योगिक विकास
  • भारत में बुनियादी ढांचा एवं विज्ञान और प्रौद्योगिकी में भारतीयों की उपलब्धियां, प्रौद्योगिकी का स्वदेशीकरण
  • देश में अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी, कंप्यूटर, ऊर्जा संसाधन, नैनो एवं सूक्ष्म जीव विज्ञान, जैव प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में जागरूकता।
  • देश में पर्यावरण सुरक्षा और पारिस्थितिकी तंत्र एवं कृषि, बागवानी और पशुपालन
  • अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा की चुनौतियां: परमाणु प्रसार, संचार नेटवर्क, मीडिया, साइबर सुरक्षा आदि एवं भारत की आंतरिक सुरक्षा चुनौतियां
  • उत्तर प्रदेश के विशेष संदर्भ में कानून व्यवस्था और नागरिक सुरक्षा
  • देश में सुरक्षा और सुरक्षा चुनौती, आपदा, आपदा न्यूनीकरण और प्रबंधन।

यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स सामान्य अध्ययन पेपर 4 सिलेबस 2023

UPPCS Mains GS Paper 4 एक मेरिट पेपर है जिससे आपको इस में अधिक से अधिक अंक लाना होगा, जैसा आपको पता है कि Mains GS Paper 4 भी कुल 200 अंकों का पेपर है | UPPSC PCS Mains GS Paper 4 के अंक परीक्षा के अंतिम परिणाम में जोड़े जाते है | UPPCS Mains GS Paper 4 में किन किन बिंदु से प्रश्न आते है वो इस प्रकार है –

  • देश और राज्य में नैतिकता और मानव संपर्क (उत्तर प्रदेश के विशेष सन्दर्भ में)
  • भारत और उत्तर प्रदेश में सिविल सेवा के लिए योग्यता व मूल्य
  • भावनात्मक बुद्धि से सम्बंधित मुलभुत बातें
  • देश व दुनिया के नैतिक विचारकों व दार्शनिकों का योगदान (उत्तर प्रदेश के विशेष सन्दर्भ में)
  • देश में सिविल सेवा मान और लोक प्रशासन में नैतिकता (उत्तर प्रदेश के विशेष सन्दर्भ में)
  • भारत में शासन में संभावना (उत्तर प्रदेश के विशेष सन्दर्भ में)

यूपी पीएससी पीसीएस वैकल्पिक विषय सिलेबस 2023

यूपीपीएससी मुख्य परीक्षा में भी यूपीएससी मुख्य परीक्षा की भाँति वैकल्पिक विषय के दो पेपर होते है, जो कि 200-200 अंकों की होती है | परीक्षार्थी को अपनी रुचि के अनुसार वैकल्पिक विषय चुनने की छूट है लेकिन वैकल्पिक विषय की चयन यूपीएससी पीसीएस आयोग द्वारा दी गई सूची में से ही किसी एक विषय का चयन करना होता है | जो कि नीचे दिया गया है –

  • कृषि
  • पशुपालन
  • पशु चिकित्सा विज्ञान
  • भौतिकी
  • वनस्पति विज्ञान
  • प्राणि विज्ञान
  • रसायन विज्ञान
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  • विद्युत अभियन्त्रण
  • असैनिक अभियंत्रण
  • कानून
  • सार्वजनिक प्रशासन
  • अंग्रेजी साहित्य
  • संस्कृत साहित्य
  • हिंदी साहित्य
  • उर्दू साहित्य
  • दर्शन
  • भूगर्भशास्त्र
  • समाजशास्त्र व अंतर्राष्ट्रीय संबंध
  • इतिहास व भूगोल
  • अर्थशास्त्र
  • राजनीति विज्ञान
  • गणित व आंकड़े
  • प्रबंध
  • व्यापार
  • मनुष्य जाति का विज्ञान
  • चिकित्सा विज्ञान
  • मनोविज्ञान

यूपीपीसीएस पीसीएस सिलेबस से जुड़े FAQ

यूपीपीसीएस प्री में कितने पेपर होते हैं?
यूपीपीएससी पीसीएस प्रिलिम्स में कुल दो पेपर होते हैं जो कि वस्तुनिष्ट पेपर होते है। प्रत्येक पेपर 200 अंकों एवं गलत उत्तर होने पर अंक भी काटे जाते हैं। इसी तरह यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स कुल 1500 अंको का होता है जो कि यूपीपीएससी पीसीएस मेन्स के आठ पेपर के कुल अंकों का योग हैं एवं ये वर्णनात्मक पेपर होते हैं।

PCS की तैयारी कैसे करे?
PCS सिलेबस से हमेशा अपडेट रहिए और पिछले वर्ष के पीसीएस परीक्षा पेपर हल करके देखे और अपनी गलती को सुधारे | पिछले वर्ष के हल करने से आपको परीक्षा पैटर्न समझने में आसानी होगी और यह भी पता चलेगा कि पीसीएस परीक्षा के लिए आप कितने योग्य है और परीक्षा में किस टाइप के प्रश्न अधिक पूछे जाते है। पिछले वर्ष के पीसीएस परीक्षा पेपर हल करने से आपको पता चलेगा कि आपका कौन विषय पर पकड़ मजबूत है और कौन विषय पर नही

यूपीपीएससी का सिलेबस क्या है?
यूपीपीएससी पीसीएस के सिलेबस को देखने से पता चलता है कि इस प्रश्न पत्र में भारतीय इतिहास ( प्राचीन, मध्य व आधुनिक), भारतीय इतिहास में विशेषकर उन्नीसवीं सदी के मध्य से वर्तमान भारत, भारतीय संस्कृति का इतिहास, भारतीय राष्ट्रीय व स्वतंत्रता आंदोलन व भारत की संस्कृति, पर्यावरण और शहरीकरण, विश्व एवं भारत का भूगोल व संसाधन आदि यूपीपीएससी पीसीएस के सिलेबस का ही हिस्सा है |

यूपीपीसीएस की तैयारी कैसे करें?
यूपीपीसीएस की तैयारी शुरू करने से पहले, यूपीपीएससी पीसीएस परीक्षा के लिए अपने आप को मानसिक और शारीरिक रूप से तैयार कर लें | प्रतिदिन एक नया लक्ष्य निर्धारित कर उस पर प्रभावी ढंग से समय दे और लक्ष्य को पूरा करे | यूपीपीएससी पीसीएस सिलेबस व परीक्षा पैटर्न को अच्छी तरह से समझें और अपनी तैयारी को शुरू करें |

UPPSC PCS Syllabus Questions (FAQ) Hindi

पीसीएस का एग्जाम कौन कराता है?
PCS का एग्जाम राज्य सेवा आयोग कराता है | PCS का Full Form होता है – Provincial Civil Service यह एक राज्य स्तरीय संस्था होती है |

UPPSC क्या होता है in Hindi?
UPPSC का अर्थ है “Uttar Pradesh Public Service Commission. यह उत्तर प्रदेश सरकार की एक राज्य एजेंसी है जो यूपीपीएससी पीसीएस परीक्षा आयोजित कराती है |

यूपी पीसीएस का फॉर्म कब भरा जाएगा?
यूपीपीएससी पीसीएस 2023 के ऑनलाइन आवेदन जल्द ही शुरू होगा । इच्छुक और योग्य विद्यार्थी यूपीपीएससी आयोग की आधिकारिक वेबसाइट uppsc.up.nic.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन की तारीख देख सकते हैं। यूपी पीसीएस के माध्यम से विभिन्न विभागों में पद भरे जाएंगे।

पीसीएस अधिकारी का काम क्या होता है?
पीसीएस अधिकारी प्रशासन के संचालन व कानून व्यवस्था के साथ साथ जिला, राज्य स्तरीय विभिन्न पदों को संभालता है | जैसे – SDM, DSP इत्यादि |

PCS की सैलरी कितनी होती है?
यूपी की बात करें तो यूपी में एक पीसीएस अधिकारी को 56,000 से 1,32,000 रुपये प्रति माह सैलरी मिलती है |

पीसीएस करने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?
अभ्यार्थी को मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से बैचलर डिग्री प्राप्त होनी चाहिए व अभ्यार्थी भारतीय नागरिक एवं उसकी न्यूनतम उम्र 21 वर्ष और अधिकतम 40 वर्ष होनी चाहिए।

Leave a Reply